मेघ समाज को एक सूत्र मैं पिरोने के लिए भगत महासभा दूआरा भगत नेटवर्क चलाया जा रहा है !इस में भगत एस एम् एस नेटवर्क के इलावा भगत ईमेल नेटवर्क चलाया जा रहा है !सभी मेघ भाइयों से अपील है की भगत नेटवर्क का मेम्बर बनिए तां की हम अपने समाज की सभी सूचनाएं घर घर तक पहुंचा सकें !
Loading...

सतपाल मावलिया की मेघ समाज के लिए ख़ूबसूरत पंक्तियां। ज़रूर पढ़ें।

Friday, September 23, 2016

🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏
भगत महासभा ने बजा दिया है
बिगुल जीत का आज,
चहुँ दिशाऐं गूँज रही है
मेघों की आवाज़।

जाग उठे जो सोए हुए थे
अज्ञान की नींद।
अपनी शक्ति को पहचाना
बने ज्ञान के मीत।
करते रहे हैं,अब भी करेंगे
हम दुनिया पे राज
चहुँ दिशाऐं गूँज रही है
मेघों की आवाज़।

भगत महासभा ने देखो
कैसे कर दिए काम।
कुल दुनिया में चमक रहा है
अब मेघों का नाम।
इसी वजह से अपना सब का
हुआ अलग अंदाज ।
चहुँ दिशाऐं गूँज रही है
मेघों की आवाज़।

संत कबीर के हम हैं सेवक
हम उनके अनुयायी ।
विश्व भर में यही पताका
है हमने फहराई।
अपनी राह की हर बाधा को
कर देंगे बर्बाद ।
चहुँ दिशाऐं गूँज रही है
मेघों की आवाज़।

दी पुरुखों ने हमें नसीहत
आगे बढ़ते जाओ।
आन,बान ओर विद्या को सब
हासिल करते जाओ।
हो संगठित करके मेहनत
राखो सर पे ताज।
चहुँ दिशाऐं गूँज रही है
मेघों की आवाज़।

सतपाल मवालिया
अमृतसर

मेघ समाज के लिए सतपाल मावलिया जी की ख़ूबसूरत पंक्तियां। ज़रूर पढ़ें।

भगत महासभा पठानकोट यूनिट 20 नवंबर 2016 को सुजानपुर,ज़िला पठानकोट में सतगुरु कबीर जी महाराज व बाबा साहेब डॉ बी आर आंबेडकर की विचारधारा पर एक कार्यक्रम करेगी।

Sunday, September 18, 2016

अवतार सिंह भगत वासी गाँव नूरपुर दोना ज़िला कपूरथला की 35 साल पुरानी ज़मीन पर पुलिस की मिली भगत से उसी गाँव की एक औरत द्वारा कब्ज़ा किया गया है। अवतार सिंह भगत और बाकी कबीरपंथी समाज के लोग वहां पर सतगुरु कबीर साहेब जी के नाम पर गुरद्वारा बनाने के बारे में भी सोच रहे थे।अवतार सिंह भगत को पुलिस नाज़ायज़ तौर पर पकड़ के ले गयी और उसके साथ बोहुत धकेशही की। कपूरथला शहर में सभी राजनितिक हस्तियों ने

Friday, September 16, 2016

भगत महासभा का समागम 20 नवंबर 2016 को सुजानपुर में होगा।

Tuesday, September 13, 2016

Census report of Meghs of Madhya pardesh and Chhatisgarh.

[13/09 3:23 pm] tara ram rajasthan: Madhya Pradesh census-2011
Educational position of Megh.... in Madhya Pradesh State- 2011
हिमाचल प्रदेश राज्य की जनसंख्या गणना--2011: मेघवाल..

              मध्य प्रदेश राज्य में सूचीबद्ध सभी अनुसूचित जातियों की कुल जनसंख्या 11342320 आंकी गयी है। जिनमें मेघवाल जाति की जनसंख्या 81148 दर्ज की गयी है।
             मध्य प्रदेश राज्य की समस्त अनुसूचित जातियों की जनसंख्या में मेघ जनसंख्या 00.71% है। शिक्षा में अन्य समकक्षवर्गों से वे बहुत पिछड़े हुए है।
             मध्य प्रदेश राज्य में मेघों की शिक्षा के बारे में जो आंकड़ें उपलब्ध है, उनसे निम्न तथ्य प्रकट होते है....
कुल अनपढ़  जनसंख्या। = 38618
कुल पढ़े लिखे या साक्षर।   = 42530
बिना स्कूली शिक्षा के साक्षर = 1472
प्राइमरी से कम पढ़े लिखे = 14386
प्राइमरी तक पढ़े लिखे = 14493
मिडिल तक पढ़े लिखे = 6264
मेट्रीक या 10वीं तक पढ़े लिखे= 2493
सीनियर या इंटर तक पढ़े लिखे= 1961
नॉन टेक्निकल डिप्लोमा।  = 00
टेक्निकल डिप्लोमा          = 49
ग्रेजुएट और अधिक।   = 1234

             अगर मेघों की जनसंख्या में इसे प्रतिशत में दर्ज करे तो निम्न प्रतिशत होता है- कुल अनपढ़  जनसंख्या= 47.59%
कुल पढ़े लिखे या साक्षर।   = 52.41%
बिना स्कूली शिक्षा के साक्षर = 1.82%
प्राइमरी से कम पढ़े लिखे = 17.86%
प्राइमरी तक पढ़े लिखे = 17.85%
मिडिल तक पढ़े लिखे = 7.92%
मेट्रीक या 10वीं तक पढ़े लिखे= 3.07%
सीनियर या इंटर तक पढ़े लिखे= 2.41%
नॉन टेक्निकल डिप्लोमा।  = 00.00%
टेक्निकल डिप्लोमा          = 00.06%
ग्रेजुएट और अधिक।   = 1.52%
********************************************************************************** Chhatisgarh census-2011
Educational position of Megh.... in Chhatisgarh State- 2011

              छतीसगढ़ राज्य में सूचीबद्ध सभी अनुसूचित जातियों की कुल जनसंख्या 3274269 आंकी गयी है। जिनमें मेघवाल जाति की जनसंख्या 115 दर्ज की गयी है।
             छत्तीसगढ़ राज्य की समस्त अनुसूचित जातियों की जनसंख्या में मेघ जनसंख्या 00.00% है। शिक्षा में अन्य समकक्षवर्गों से वे बहुत पिछड़े हुए है।
             छत्तीसगढ़ राज्य में मेघों की शिक्षा के बारे में जो आंकड़ें उपलब्ध है, उनसे निम्न तथ्य प्रकट होते है....
कुल अनपढ़  जनसंख्या। = 17
कुल पढ़े लिखे या साक्षर।   = 98
बिना स्कूली शिक्षा के साक्षर = 4
प्राइमरी से कम पढ़े लिखे = 10
प्राइमरी तक पढ़े लिखे = 9
मिडिल तक पढ़े लिखे = 7
मेट्रीक या 10वीं तक पढ़े लिखे= 21
सीनियर या इंटर तक पढ़े लिखे= 21
नॉन टेक्निकल डिप्लोमा।  = 00
टेक्निकल डिप्लोमा          = 2
ग्रेजुएट और अधिक।   = 24

             अगर मेघों की जनसंख्या में इसे प्रतिशत में दर्ज करे तो निम्न प्रतिशत होता है- कुल अनपढ़  जनसंख्या= 14.78%
कुल पढ़े लिखे या साक्षर।   = 85.21%
बिना स्कूली शिक्षा के साक्षर = 3.47%
प्राइमरी से कम पढ़े लिखे = 8.69%
प्राइमरी तक पढ़े लिखे = 7.82%
मिडिल तक पढ़े लिखे = 00.00%
मेट्रीक या 10वीं तक पढ़े लिखे= 18.26%
सीनियर या इंटर तक पढ़े लिखे= 18.26%
नॉन टेक्निकल डिप्लोमा।  = 00.00%
टेक्निकल डिप्लोमा          = 1.73%
ग्रेजुएट और अधिक।   = 20.86%

Himachal pardesh census-Educational position of meghs

👍Himachal Pradesh census-2011
Educational position of Megh.... in Himachal Pradesh State- 2011
हिमाचल प्रदेश राज्य की जनसंख्या गणना--2011: मेघ

              👍हिमाचल प्रदेश राज्य में सूचीबद्ध सभी अनुसूचित जातियों की कुल जनसंख्या 1729252 आंकी गयी है। जिनमें मेघ जाति की जनसंख्या  1779 दर्ज की गयी है।
             👍हिमाचल प्रदेश राज्य की समस्त अनुसूचित जातियों की जनसंख्या में मेघ जनसंख्या 00.10% है। शिक्षा में अन्य समकक्षवर्गों से वे बहुत पिछड़े हुए है।
             👍हिमाचल प्रदेश में कबीरपंथी जनसंख्या के बारे में अलग पोस्ट में विश्लेषण किया है , अलग पोस्ट  में देखें! यह सिर्फ मेघ जनसंख्या के आंकड़ें है!
            👍 हिमाचल प्रदेश राज्य में मेघों की शिक्षा के बारे में जो आंकड़ें उपलब्ध है, उनसे निम्न तथ्य प्रकट होते है....
कुल अनपढ़  जनसंख्या। = 493
कुल पढ़े लिखे या साक्षर।   = 1286
बिना स्कूली शिक्षा के साक्षर = 35
प्राइमरी से कम पढ़े लिखे = 168
प्राइमरी तक पढ़े लिखे = 333
मिडिल तक पढ़े लिखे = 204
मेट्रीक या 10वीं तक पढ़े लिखे= 290
सीनियर या इंटर तक पढ़े लिखे= 195
नॉन टेक्निकल डिप्लोमा।  = 00
टेक्निकल डिप्लोमा          = 4
ग्रेजुएट और अधिक।   = 57

             👍अगर मेघों की जनसंख्या में इसे प्रतिशत में दर्ज करे तो निम्न प्रतिशत होता है- कुल अनपढ़  जनसंख्या= 27.72%
कुल पढ़े लिखे या साक्षर।   = 72.29%
बिना स्कूली शिक्षा के साक्षर = 1.96%
प्राइमरी से कम पढ़े लिखे = 9.44%
प्राइमरी तक पढ़े लिखे =  18.72%
मिडिल तक पढ़े लिखे = 11.46%
मेट्रीक या 10वीं तक पढ़े लिखे= 16.30%
सीनियर या इंटर तक पढ़े लिखे= 10.96%
नॉन टेक्निकल डिप्लोमा।  = 00.00%
टेक्निकल डिप्लोमा          = 00.22%
ग्रेजुएट और अधिक।   = 3.20%

Popular Posts